July 2, 2020
Headlines राष्ट्रीय

बिगड़ती अर्थव्यवस्था पर रामदेव का बड़ा बयान: कहा सरकार को करना…

डेस्क: अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी के मुद्दे पर विपक्षी दल जहाँ मोदी सरकार को घेरे हुए हैं. इसे बीच योगगुरु बाबा रामदेव ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने अर्थव्यवस्था और बेरोजगारी के मुद्दे पर एक प्रेस वार्ता के दौरान सरकार को इन दिशाओं में कुछ काम करने की सलाह दी है.

बतादें कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की नीतियों की मौकों पर प्रशंसा और समर्थन करने वाले योग गुरु बाब रामदेव ने शुक्रवार को अर्थव्यवस्था को लेकर इशारों इशारों में मोदी सरकार को सलाह दी है. शुक्रवार को योग गुरु रामदेव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर साल 2020 के लिए अपने एजेंडे को सामने रखा.

6000 रुपए प्रतिमाह हो मिड डे मील कर्मचारियों का वेतन:  राजेन्द्र सिंह चुडासमा ने रखी डिमांड

जहाँ योगगुरु रामदेव ने कहा कि, ‘देश को स्वदेशी एवं स्वाभिमान के संकल्प के साथ राष्ट्र को सभी क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बनाने, आर्थिक गति को तेज रफ्तार देकर देश को प्रगति का नया कीर्तिमान बनाने के मास्टर प्लान पर प्रेस वार्ता. आगे रामदेव ने CAA जैसे मुद्दों पर जारी विरोध प्रदर्शनों पर भी अपनी राय दी है.

Loading...

उन्होंने कहा कि जो भी प्रदर्शन के दौरान आजादी के नारे लगा रहे हैं, वो पूरी तरह से गलत है. ये देश हर किसी का है.  आगे योगगुरु रामदेव ने कहा कि मलेशिया, इंडोनेशिया जैसे देशों ने भारत को लेकर गलत बयान दिए, इसी वजह से भारत सरकार ने सख्त कार्रवाई की. आज भी देश में 50 हजार करोड़ से अधिक का निवेश विदेशी कंपनियों का है. रामदेव ने कहा कि शिक्षा, व्यापार और संस्कृति के क्षेत्रों में अभी भी हम गुलामी का शिकार हो रहे हैं.

दरअसल अर्थव्यवस्था के मामले में मोदी सरकार के लिए हर ओर से बुरी खबर आ रही है. जहाँ दुनिया की कई बड़ी एजेंसियों ने भारत की GDP के अनुमान दर घटा दिया है तो IMF जैसी संस्थाओं ने वैश्विक मंदी के लिए भारत को ही जिम्मेदार बता दिया.

Loading...

Related Posts

Leave a Reply