January 25, 2020
Headlines राजनीति

CAB: संसद से सड़क तक संग्राम, असम में स्टेशन फूंकी, उड़ाने भी रद्द  

डेस्क:  राज्यसभा से नागरिकता संशोधन बिल (CAB) पास होने के साथ ही इसके कानून बनने की राह आसान हो गयी है. लेकिन नागरिकता संशोधन बिल पर राज्यसभा की मुहर लगते ही इसका विरोध भी अब बढ़ गया है. सबसे ज्यादा विरोध पूर्वोत्तर के राज्यों में हो रहा है. नागरिकता संशोधन बिल का विरोध कर रहे पूर्वोत्तर के प्रदर्शनकारियों ने कई स्टेशनों में भी तोड़फोड़ और आगजनी की है.

बतादें कि असम से लेकर त्रिपुरा और लगभग सभी पूर्वोत्तर के राज्य नागरिकता संशोधन बिल को लेकर विरोध में उतरे हुए हैं. नागरिकता संशोधन बिल क्ले राज्यसभा से पास होने के बाद जहाँ इसका कानून बनना लगभग तय माना जा रहा है तो वहीँ असम के कई इलाकों में उग्र प्रदर्शन के कारण कर्फ्यू लगाना पड़ा है. पूर्वोतर के राज्यों के लोग नागरिकता संशोधन बिल के पास होने को अपनी संस्कृति पर बड़ा हमला बता रहे हैं.

Loading...

जिसको लेकर ही सारा विरोध जारी है जोकि थमने का नाम नहीं ले रहा है. न्यूज़ एजेंसी ANI की खबर के अनुसार असम के गुवाहाटी में उग्र विरोध प्रदर्शन को देखते हुए कर्फ्यू लगाया गया है. यहाँ असम में छात्र संगठनों की अगुवाई में चल रहे प्रदर्शन में काफी तोड़फोड़ की गई थी. प्रदर्शनों को देखते हुए बुधवार देर शाम को असम रायफल्स की दो कॉलम्स को त्रिपुरा में तैनात किया गया है. लेकिन प्रदशन थमने का नाम नहीं ले रहा है. नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ असम के छाबुआ, पानितोला रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों ने हंगामा किया है.

कई स्टेशनों पर आगजनी भी की गयी है. नागरिकता संशोधन बिल के संसद के दोनों सदनों से पास होने के बाद संसद से सड़क तक प्रदर्शन जारी है. प्रदर्शन के बीच रेलवे ने पूर्वोत्तर की ओर जाने वाली दर्जनों ट्रेनों को कैंसिल कर दिया है साथ ही असम जाने वाली उड़ानों को भी कैंसिल किया गया है. फिलहाल नागरिकता संशोधन बिल को पूर्वोतर के लोगों ने अपनी अस्मिता पर बड़ा प्रहार बताया है. हालाँकि सरकार ने सदन में कई बार स्पष्ट किया है कि इस बिल से किसी पर कोई खतरा नहीं है.

 

Loading...

Related Posts

Leave a Reply