July 2, 2020
Headlines राष्ट्रीय

जल्लाद तैयार-फांसी की तारीख़ कल: कुछ ही देर में निर्भया के गुनाहगारों पर ‘आखिरी’ फैसला

नई दिल्ली: निर्भया के गुनहगारों को कल सुबह फांसी होगी या नहीं इस को लेकर अभी भी कुछ क्लियर नहीं हुआ है, क्यों कि निर्भय एके गुनाहगार कानून कानून खेलने में लगे हुए हैं. पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया के गुनाहगारों के लिए एक फरवरी का डेथ वारंट जारी किया है. जिसको लेकर एक दोषी ने कोर्ट में याचिका लगाई है. जिसपर अभी सुनवाई चल रही है.

निर्भया के दोषियों को फांसी दिए जाने में महज कुछ घंटे का समय बचा है. पटियाला हाउस कोर्ट ने सभी दोषियों को एक फरवरी को फांसी दिए जाने के लिए डेथ वारंट जारी किया है. उधर निर्भया के दोषी विनय की याचिका पर सुनवाई के बाद कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया है. पटियाला कोर्ट एक घंटे में फैसला सकता है. उधर कोर्ट ने तिहाड़ के अफसरों को रुकने के लिए कहा है. कोर्ट ने कहा ऑर्डर लिखने में तिहाड़ जेल प्रशासन की जरूरत पड़ सकती है. तिहाड़ जेल ने कहा कि याचिकाओं का कोई अंत नहीं है.

Nirbhaya convicts file curative petition in supreme court

बजट सत्र से पहले आर्थिक सर्वेक्षण: 2020-21 में इतनी रहेगी जीडीपी ग्रोथ रेट

जेल प्रशासन ने यह भी कहा है कि एक को छोड़कर (विनय) बाकी तीन को कल फांसी दी जा सकती है और जेल प्रशासन ने इसके लिए पूरी तैयारी कर ली है. दरअसल निर्भया के दोषी विनय की दया याचिका राष्ट्रपति के पास लम्बित है. ऐसे में दोषियों के वकील एपी सिंह ने कोर्ट में डेथ वारंट पर रोक लगाने की मांग की है. जिसपर सुनवाई हो चुकी है और कुछ ही देर में कोर्ट अपना फैसला सूना सकता है. सरकारी वकील ने कहा है कि विनय ने दया याचिका लगाई है, इसलिए हमें याचिका के निपटारे तक इंतजार करना होगा, लेकिन बाकी तीनों को फांसी पर 1 फरवरी को लटकाने में किसी नियम का उल्लंघन नहीं होगा.

Loading...

JK: सुरक्षाबलों ने नाकाम किया ‘पुलवामा’ जैसा हमला-ट्रक में छिपे थे आतंकी और मिला भारी मात्रा में विस्फोटक…  

उधर दोषियों के वकील एपी सिंह ने सुप्रीम कोर्ट में पवन गुप्ता की जुविनेल्टी से जुड़ी पुनर्विचार याचिका दाखिल की है. जिसपर अभी सुनवाई होना बाकी है. ऐसे में दोषियों के वकील पवन और विनय दोनों की फांसी को रोकने के लिए इन याचिकाओं का सहारा ले रहे हैं. जारी सुनवाई के बीच निर्भया की वकील सीमा ने कहा कि सभी दोषियों ने इस मामले को लंबा खींचने का लगातार सालों से कोशिश की है और अभी भी वहीं कर रहे है.

बजट सत्र से पहले राष्ट्रपति कोविंद का अभिभाषण- एक क्लिक में जानिए क्या कुछ कहा…

इन लोगों ने कोई याचिका नहीं लगाई जब तक पटियाला हाउस कोर्ट ने इस मामले में डेथ वारंट जारी नहीं कर दिया. फिलहाल कुछ ही देर में कोर्ट का फैसला आने वाला है. अब देखना यह है कि निर्भया के दोषियों को कल फांसी की राह खुलेगी या फिर कोई नहीं कानून अड़चन फांसी में रोड़ा बन जाएगी.

Loading...

Related Posts

Leave a Reply