June 19, 2019
दिल्ली मुख्य खबरें

22 विपक्षी दलों की EC से गुहार: काउंटिंग से पहले हो EVM और VVPAT पर्चियों का मिलान

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 का परिणाम आने में महज दो दिन बाकी हैं, उससे पहले ही विपक्षी दलों को ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका ने परेशान कर दिया है. जिसके बाद मंगलवार को 22 दलों ने चुनाव आयोग पहुंचकर अपनी मांग रखी है.

 

बतादें कि देशभर में ईवीएम बदले जाने और ईवीएम रखे जाने वाले स्ट्रांग रूम के सीसीटीवी कैमरों के बंद होने की घटनाओं के बीच विपक्षी दलों को ईवीएम का डर फिर से सताने लगा है. इसी बीच्ग मंगलवार को 22 विपक्षी दलों के नेताओं ने ईवीएम में गड़बड़ी के मुद्दे पर चुनाव आयोग से मुलाकात की. साथ ही ईवीएम और VVPAT की पर्चियों के मिलान की भी मांग की है.

चुनाव आयोग में प्रमुख अधिकारियों से मुलाकात के बाद कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, ‘आज हमने दो तीन चीजें बताई हैं, सुप्रीम कोर्ट ने अनुमति दी है कि हर विधानसभा में रैंडम पांच ईवीएम की मशीनों के जो वीवीपीएटी स्लिप गिननी चाहिए. लेकिन चुनाव आयोग ने जो आदेश निकाला है उसमें कहा है कि पहले काउंटिंग हो जाए उसके बाद वीवपीएटी की पर्ची को गिनेंगे.

हमने आयोग ने कहा है कि आप एक विधानसभा जो पांच वीवीपीएटी की पर्चियों का मिलान करेंगे वो सबसे पहले गिनो. अगर उसमें गलती होगी तो आपको उस विधानसभा की सभी वीवीपीएटी की पर्चियों को गिनना चाहिए नहीं तो इसका बाद में कोई फायदा नहीं. आयोग ने हमने कहा कि वो दोबारा बैठेंगे और इसके बारे में फैसला लेंगे.’

Loading...

दरअसल चुनाव परिणाम से पहले यूपी सहित देशभर में कई जगहों से ईवीएम के कथित रूप से बदले जाने, स्ट्रांग रूम के कैमरे बंद होने जैसी ख़बरें आ चुकी हैं. जिसके बाद विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग पर भी सवाल खड़े करने शुरू कर दिए हैं.

Loading...

Related Posts