July 8, 2020
Headlines राष्ट्रीय

निर्भया गैंगरेप के दोषियों ने SC में दायर की क्यूरेटिव पिटीशन

नई दिल्ली: साल 2012 के गैंगरेप मामले में दोषी और फांसी की सज़ा पाए चारों दोषियों की फांसी की सज़ा के लिए पटियाला हाउस कोर्ट ने डेथ वारंट जारी कर चुकी है. 20 जनवरी को उन्हें फांसी की सज़ा दिए जाने की तैयारी की जा रही है. इसी बीच एक दोषी ने सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव पिटीशन दायर कर दी है.

बतादें कि निर्भया मामले में एक दोषी विनय कुमार शर्मा आने सुप्रीम कोर्ट में अपने वकील एपी सिंह की ओर से क्यूरेटिव पिटीशन दायर करवाई है. इस मामले में दोषियों के वकील एपी सिंह ने कहा कि हमने 2017 में पवन गुप्ता की ओर से दायर SLP की प्रमाणित प्रति के लिए पटियाला हाउस कोर्ट में अर्जी दायर की है. दरअसल पिछले ही मंगलवार को पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया मामले के चारों दोषियों को फांसी की तारीख मुकर्र कर दी है.

Loading...

ट्रंप ने कहा- ईरानी हमले में नहीं हताहत हुआ कोई अमेरिकी सैनिक…

सभी को 22 जनवरी की सुबह 7 बजे फांसी की सज़ा दिए जाने का डेथ वॉरंट जारी कर दिया गया है. उधर दोषी की क्यूरेटिव पिटीशन पर सुप्रीम कोर्ट में अब सुनवाई होगी. जिससे फांसी की तय तिथि आगे बढ़ सकती है. दोषियों के वकील ने पहले ही कह दिया था कि वह क्यूरेटिव पिटीशन दाखिल करेंगे. इससे पहले पिछले पिछले साल दिसंबर में सुप्रीम कोर्ट ने एक दोषी की पुनर्विचार याचिका को खारिज कर दिया था. ऐसे में अब देखना है कि क्यूरेटिव पिटीशन पर सुप्रीम कोर्ट में कब सुनवाई होती है और कब इसपर फैसला लिया जाता है.

ईरानी हमले से भड़के ट्रंप: कहा मेरे राष्ट्रपति रहते ईरान नहीं बनेगा परमाणु संपन्न देश

अगर सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर निर्भया के पक्ष में फैसला सुनाता है उसके बाद दोषियों की दया याचिका पर राष्ट्रपति के फैसले के बाद सभी आरोपियों को तय तारीख को फांसी दी जा सकती है, लेकिन अब यह सुप्रीम कोर्ट पर निर्भर करता है कि वह इस मामले की कब सुनवाई और कब फैसला सुनाती है. फिलहाल आपको बतादें कि दिसंबर साल 2012 में हुए इस निर्भया कांड में कानूनी दांव पेंच के सहारे ही दोषी अभी तक फांसी से बचे हुए हैं.

Loading...

Related Posts

Leave a Reply