Friday, June 11, 2021

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी पर कोरोना का कहर: प्रोफेसरों सहित 26 लोगों की चली गयी जान…

राष्ट्रीय

देश में कोरोना वायरस के नये आसमान छू रहे हैं. शुक्रवार को भी देश में कोरोना वायरस के 4 लाख से अधिक नये मामले सामने आये हैं. जिसमें महाराष्ट्र उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक केस दर्ज किये गये हैं. उत्तर प्रदेश ने कोरोना वायरस की पहली लहर तो झेल ली थी, लेकिन दूसरी लहर में उत्तर प्रदेश चारो खाने चित हो गया है. राज्य में स्वास्थ्य सेवाएँ ऐसी चरमराई की हालात बद से बदतर हो गये हैं.

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच जिन राज्यों में चुनाव हुए वहां कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि हुई है. उत्तर प्रदेश में भी पंचायत चुनाव संपन्न हुए हैं. ऐसे में इसबार प्रदेश में कोरोना वायरस शहरों के साथ साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी मौत कहर बनकर टूटा है. कोरोना वायरस से शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगों पर भी बड़ी त्रासदी साबित हो रहा है. पंचायत चुनाव में ड्यूटी करने वाले करीब 135 से भी अधिक शिक्षकों की मौत के बाद अब खबर है की अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के दर्जनभर से अधिक फैकल्टी की कोरोना वायरस से जान चली गयी है.

एक दिन में सबसे अधिक कोरोना वायरस के मामले: टूट रहे रिकॉर्ड

यूनिवर्सिटी के प्रवक्ता शफई किदवई ने बताया है की हमने कई प्रोफेसरों को कोरोना महामारी में खो दिया है. जिनमें मेडिसिन विभाग के अध्यक्ष, कंप्यूटर साइंस विभाग के प्रोफेसर सहित 26 फैकल्टी शामिल हैं. इनमें 10 रिटायर फैकल्टी भी शामिल हैं. भारत में कोरोना वायरस की यह दूसरी लहर चल रही है और तीसरी लहर को लेकर सरकार के शीर्ष वैज्ञानिक सलाहकार ने चेतावनी दे दी है.

जानवरों में भी तेजी से फ़ैल रहा है कोरोना का संक्रमण: झुंड के झुंड संक्रमित  

भारत में कोरोना की तीसरी लहर आना तय है. ऐसे में कोरोना वायरस की तीसरी लहर से बचने के लिए सिर्फ दो ही उपाए नजर आ रहे हैं. पहला कि वैक्सीन को अपडेट किया जाए या फिर कोरोना वायरस की तीसरी लहर को रोकने के लिए लॉकडाउन लागू कर कड़ाई से पालन करवाया जाए. नहीं तो कोरोना वायरस की तीसरी लहर की त्रासदी बहुत भयानक हो सकती है. ऐसे में सरकारों को जल्द से जल्द लॉकडाउन को लेकर फैसला करना होगा. आप कोरोना वायरस से बचाव के लिए क्या तरीके अपना रहे हैं और आप के क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं का क्या हाल है? हमें कमेंट करके जरूर बताएं….

देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें.

- Advertisement -

More Article

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News