December 11, 2018
Others

देखें तस्वीरें: मानव कल्याण समिति का सराहानी कार्य, साल भर से जारी है निस्वार्थ सेवा

जयपुर: राजधानी जयपुर में शनिवार को एक स्वयंसेवी समिति द्वारा बालभोग प्रसादी का वितरण किया है. बालभोग प्रसादी का वितरण सप्ताह में तीन दिन किया जाता है. समिति का यह 111वां प्रसादी वितरण समारोह था.

बतादें कि राजस्थान की राजधानी जयपुर के चन्द्रपोल बाजार में पिछले लम्बे समय से ‘मानव कल्याण समिति’ द्वारा इस प्रकार का आयोजन किया जा रहा है.

loading...

इसबार बालभोग प्रसादी का आयोजन मानव कल्याण सेवा समिति के सहयोग से समाजसेवी दिनेश कुमार मालपानी और उनके परिवारजनों द्वारा किया गया.

जयपुर के प्रसिद्धि माहेश्वरी धर्मशाला के बाहर चांदपोल बाजार में शनिवार सुबह 8:30 बजे मां अन्नपूर्णा बालभोग प्रसादी का 111वां वितरण किया गया.

इस मौके पर सैकड़ों लोग को प्रसादी लेने के लिए शामिल हुए.

मानव कल्याण सेवा समिति द्वारा ‘सामाजिक समरसता सेवार्थ’ के तहत इस प्रकार का कार्यक्रम लम्बे समय से चलाया जा रहा है. जहाँ समिति और सहयोगियों की मदद से मजलूमों, गरीबों और राहगीरों की सेवा की जाती है.

समिति से जुड़े ओम पालीवाल ने बताया कि पहले समिति द्वारा सप्ताह में एकही दिन बाल भोग प्रसादी वितरण किया जाता था, लेकिन समिति के प्रयासों और स्वयंसेवी लोगों की मदद के चलते अब सप्ताह में तीन बार बालभोग प्रसादी का वितरण किया जा रहा है.

उन्होंने बताया कि इस प्रकार की सेवा के लिए लोग अब सामने आने लगे हैं.

जिसके कारण सप्ताह में तीन दिन, बुधवार, शनिवार और रविवार को प्रसादी का वितरण किया जाने लगा है.

वहीँ पालीवाल जी ने आगे बताया कि समिति आगे बड़े स्तर पर लोगों की मदद के करने का विचार बना रही है.

उन्होंने कहा कि आगामी समय में समिति द्वारा विधवा और बुजुर्ग महिलाओं को फ़ूड किट मुहैया करायेगी.

फ़ूड किट में उन्हें राशन सामग्री दी जायेगी. वहीँ समिति द्वारा समाज के संपन्न लोगों से अपील की है कि वह इस प्रकार के सेवाभाव के कार्यक्रम में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लें.

जिससे समाज के उस तबके की मदद की जा सके जोकि वाकई किसी की मदद की रहा देख रहा है.

इसके साथ ही राजधानी जयपुर में इस प्रकार के एकमात्र आयोजन से लोगों में ख़ुशी देखने को मिल रही है.

खासकर गरीब और मजबूर लोग समिति के प्रयासों की जमकर तारीफ़ और मदद करने वाले लोगों को दुआएं दे रहे हैं.

आप हमारे साथ फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ सकते हैं.

फेसबुक पेज पर जाने ले लिए क्लिक करें 

ट्विटर पेज पर जाने ले लिए क्लिक करें 

यह भी देखें-

loading...

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *