August 11, 2020
Headlines ऑफ़बीट

जब केरल की एक मस्जिद में होने लगा मंत्रोच्चारण…  

डेस्क: देशभर में जारी नागरिकता कानून और हिंदू मुसलमान की बहस के बीच केरल में सामाजिक सौहार्द की बड़ी मिसाल देखने को मिली. इस मिसाल को देखकर खुद सीएम पिनराई विजयन कमेन्ट करने से रोक नहीं पाए.

बतादें कि केरल के अलप्पुझा जिले के कयामकुलम में एक मुस्लिम समुदाय के लोगों ने एक हिंदू परिवार की मदद के लिए हाथ बढाया. इतना ही नहीं मुस्लिम समुदाय के लोगों ने हिंदू कपल की शादी के लिए आर्थिक मदद दी साथ ही दोनों की शादी भी मस्जिद में मंत्र उच्चारण के साथ हुई. दरअसल, आर्थिक रूप से कमजोर अंजू नाम की महिला की माँ अपनी बेटी की शादी के लिए स्थानीय मस्जिद कमेटी से मदद मांगी. कमेटी को जब इस बात की जानकारी हुई तो उन्होंने मदद के लिए तुरंत हामी भर दी और रविवार को ही हिंदू रीति रिवाजों के अनुसार शादी की हुई.

परीक्षा पर चर्चा: आज पीएम मोदी करेंगे छात्रों के साथ मन की बात…

Loading...

ख़ास बात यह है कि यह शादी मस्जिद परिसर में हुई थी. जहाँ मस्जिद परिसर में बाकायदा सात फेरे लेते हुए दूल्हा-दुल्हन शादी के बंधन में बंध गए. इस दौरान दोनों कपल को मस्जिद की ओर से सोने के कई गिफ्ट और दो लाख रूपये मदद के रूप में नगद दिए गये. शादी में शाकाहारी भोजन परोसा गया. इस शादी की चर्चा राज्य के सीएम पिनराई विजयन ने तक की है.

केरल के सीएम पिनराई विजयन ने शादी की फोटो ट्विटर पर शेयर करते हुए नवदंपति को बधाई देते हुए इसे सामाजिक एकता की मिसाल बताया. उन्होंने लिखा है कि, ‘केरल से एकता का एक उदाहरण. मां की अपील के बाद मस्जिद उनकी बेटी की शादी के लिए आगे आई. चेरुवल्ली जमात कमेटी ने हिन्दू रिवाजों से शादी कराई है’.

राजस्थान की गहलोत सरकार का बड़ा फैसला: PAK से आए हिंदू शरणार्थियों को आधी कीमत पर मिलेगी जमीन

Loading...

Related Posts

Leave a Reply