July 2, 2020
Headlines राजनीति

फिर सुर्ख़ियों में जामिया मिल्लिया: नये साल पर प्रदर्शन, लगे आजादी के नारे

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली का जामिया मिल्लिया इस्लामिया एक बार िफ़र से चर्चा में आ गया है. यहाँ नये साल के मौके पर कैंपस के बाहर ‘छात्रों’ ने प्रदर्शन किया. हालाँकि इस बार किसी भी प्रकार की हिंसा नहीं हुई.

मंगलवार और बुधवार की रात नये साल के मौके पर जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्रों ने जश्न में प्रदर्शन किया. छात्र बड़ी तादाद में जामिया कैंपस के बाहर जमा हुए और राष्ट्रगान गाकर नए साल का स्वागत किया. राष्ट्रगान के बाद कनॉट प्लेस, शाहीन बाग और साकेत जैस कई इलाकों में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का विरोध किया गया.

CDS की पोस्ट संभालते ही रावत ने तीनों सेनाओं को लेकर दिया बड़ा बयान

Loading...

इस दौरान उनके हाथों में पोस्टर, तख्तियां और तिरंगे थे. जिनपर सीएए के खिलाफ नारे लिखे गये थे. दरअसल आपको बतादें कि नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लगातार विरोध हो रहा है. देश के कई हिस्सों में विरोध शुरू हुआ जोकि हिंसक हो गया था. पिछले ही दिनों नागरिकता संशोधन कानून की आड़ में दिल्ली के जामिया इलाके और जामिया विश्वविद्यालय में हिंसा और तोड़फोड़ भी हुई हैं.

भीमा कोरेगांव बरसी: दो साल पहले हिंसा से दहल गया था देश- आज भी बंद हुआ इंटरनेट

Loading...

Related Posts

Leave a Reply