July 8, 2020
Headlines मनोरंजन

रिलीज होने के बाद ‘पानीपत’ से हटेगा विवादित सीन: लेकिन जारी है बैन की मांग

डेस्क: फिल्म पानीपत का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है. फिल्म में राजा सूरजमल की छवि को धूमिल करने का आरोप लगाकर फिल्म को बैन की मांग की जा रही है. वहीँ अब खबर है कि पानीपत से उस विवादित सीन को हटाया जाएगा. फिल्म 6 दिसंबर को ही रिलीज हो चुकी है.

बतादें कि आशुतोष गोवरिकर की निर्देशित और संजय दत्त व अर्जुन कपूर अभिनीत फिल्म पानीपत का हरियाणा, राजस्थान जैसे राज्यों में बड़े स्तर पर विरोध हो रहा है. दोनों राज्यों में फिल्म के विरोध का कारण भरतपुर के महाराज सूरजमल की छवि को खराब करने का आरोप लगाया रहा है. फिल्म के खिलाफ दोनों राज्यों में जाट समुदाय सड़क पर उतर चुका है. लगातार फिल्म को बैन करने की मांग के बीच पानीपत के प्रोड्यूसर्स ने फिल्म से विवादित सीन को हटाने के लिए तैयार हो गये हैं.

CAB: ट्विटर पर भिड़े मोदी के मंत्री और राहुल गांधी

Loading...

राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजीव स्वरुप ने बुधवार को कहा- फिल्म के डिस्ट्रीब्यूर्स ने हमें जानकारी दी है कि फिल्म निर्माता पानीपत के कुछ सीन्स को एडिट करेंगे. प्रोड्यूसर्स मूवी का एडिटेड वर्जन सेंसर बोर्ड को दिखाएंगे. लेकिन विरोध करने वाले इससे राज़ी नहीं हैं. राजस्थान सरकार में पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने फिल्म को ही बैन करने की मांग की है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि, ‘पानीपत में ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ करते हुए भरतपुर के महाराजा सूरजमल जी जैसे महान पुरुष का चित्रण गलत तरीके से किया गया है.

नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ SC पहुंची IUML: सिब्बल लड़ेंगे केस

फिल्म में एक सीन के बदलने से काम नही चलेगा, सेंसर बोर्ड से मेरा निवेदन है कि इस फिल्म को पूरे देश में तुरंत प्रभाव से बंद करें.’ फिल्म के रिलीज हो जाने के बाद उठे इस विरोध से फिल्म निर्माताओं को भारी नुकसान हो रहा है वहीँ अब फिल्म से विवादित सीन हटाकर इसे फिर से रिलीज किया जाएगा. विरोध के कारण राजस्थान के कई सिनेमाघरों में पानीपत फिल्म की स्क्रीनिंग नहीं हो रही है. फिल्म का जाट समुदाय ही नहीं बल्कि राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह, शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह दोतासरा, पूर्व सीएम वशुंधरा राजे सहित कई नेताओं ने विरोध किया है.

Loading...

Related Posts

Leave a Reply