July 6, 2020
Headlines राजनीति

केजरीवाल ने कहा: दिल्ली को बचाने की हमारी जिम्मेदारी… क्रेडिट चाहे तो कोई ले ले…

नई दिल्ली: देश की राजधानी में कोरोना वायरस के मामले चीन के कुल मामलों से भी आगे निकल गये हैं. लेकिन दिल्ली में कोरोना वायरस की लड़ाई राजनितिक बयानबाजी की भेंट चढ़ी जा रही है. दिल्ली में कोरोना के हालत में सुधार को लेकर क्रेडिट लेने की होड़ मची हुई है. जिसके कारण सियासी बयानबाजी चरम पर है. ऐसे में दिल्ली को बचाने का क्रेडिट लेने में जुटे दलों पर सोमवार को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने बड़ा बयान दिया है.

बतादें कि सोमवार को दिल्ली में जारी कोरोना वायरस के कहर पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस वार्ता करते हुए कहा है कि दिल्ली को बचाने की जिम्मेदारी हमारे और हम सभी की है. फिर क्रेडिट चाहे तो कोई ले ले. उन्होंने कहा दिल्ली को लेकर केंद्र सरकार के साथ जारी समन्वय, कोरोना संकट में गृह मंत्रालय के एक्टिव होने पर भी चर्चा की.

‘लिबरेशन आर्मी’ ने ली PAK स्टॉक एक्सचेंज इमारत में आतंकी हमले की जिम्मेदारी

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोरोना से कोई भी एक सरकार नहीं जीत सकती है. सभी के साथ ही जरूरत है. एक दिन पहले एक इन्टरव्यू के दौरान केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली को लेकर बयान दिया था. जिसमे उन्होंने कहा था कि दिल्ली में मनीष सिसोदिया के बयान के बाद भय का माहौल बना हुआ है और दिल्ली में हालात देखते ही गृह मंत्रालय एक्टिव हुआ है. ऐसे में दिल्ली को लेकर बीजेपी और आम आदमी पार्टी में क्रेडिट लेने की होड़ बाजी शुरू हो गयी. जिसपर सोमवार को अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली की जिम्मेदारी मेरी है, अगर क्रेडिट लेना है तो चाहे वो ले लें. सीएम केजरीवाल ने कहा कि चुनाव में दिल्ली की जिम्मेदारी लोगों ने हमें दी, सरकार के मुखिया होने के नाते सारी जिम्मेदारी मेरी है.

Loading...

गलवान घाटी में हुई झड़प पर पूर्व सेना प्रमुख का बड़ा खुलासा: चीनी सेना के कैंप में लगी थी आग  

दिल्ली में अगर कुछ भी बुरा होता है, तो मेरी जिम्मेदारी है. इन दिक्कतों को दूर करने के लिए अगर किसी के पैर पकड़ने पड़ेंगे, तो मैं पैर भी पकड़ूंगा. आगे सीएम ने कहा मुझे कोई क्रेडिट नहीं चाहिए, सारे अच्छे काम का क्रेडिट उनका और सारी कमियों की जिम्मेदारी मेरे ऊपर. इस वक्त में हमें राजनीति नहीं करनी है, हमारा मकसद लोगों की जान बचाने से है. केजरीवाल ने भी स्वीकार किया कि केंद्र सरकार ने उनकी मदद की तब जून में युद्ध स्तर पर काम शुरू हुआ. सीएम बोले कि हमने PPE किट, टेस्टिंग किट, ऑक्सीजन किट, रेलवे कोच, डॉक्टर और नर्स की सुविधा केंद्र सरकार से मांगी, और हमें केंद्र सरकार से मदद मिली है. क्रेडिट वॉर पर केजरीवाल ने कहा कि कोरोना वायरस से कोई भी अकेला लड़ नहीं सकता है अमेरिका जैसा देश फेल हो गया. सीएम ने कहा कि राजनीतिक को साइड रखकर हमें एक साथ लड़ना होगा.

भारतीय रेलवे में 2792 पदों पर भर्ती: जानिए अपनी ‘फ्यूचर जॉब’ की सारी डिटेल…

दरअसल दिल्ली मामले में गृह मंत्री और गृह मंत्रालय के एक्टिव होने को लेकर केंद्र की सत्ताधारी बीजेपी और राज्य की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी के नेताओं में सोशल मीडिया पर क्रेडिट लेने और एक दूसरे पर आरोप लगाने का सिलसिला जारी है. यह ऐसे समय में हो रहा है कि देश में कोरोना के मामले बढ़कर साढ़े पाँच लाख हो गये हैं. सोमवार को ही देश में 19 हजार से अधिक नये केस सामने आये हैं और 300 से अधिक लोगों की जान चली गयी.

Loading...

Related Posts

Leave a Reply