June 17, 2019
देश बड़ी खबर

कांग्रेस ने कहा: AAP की जिद के कारण नहीं हुआ गठबंधन

नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी ने दिल्ली लोकसभा की सातों सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों के नाम फाइनल कर दिए हैं. वहीँ आम आदमी पार्टी के साथ गठबंधन न होने को लेकर भी बयान आया है.

बतादें कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन की लगभग सारी संभावनाएं खत्म हो गयी हैं. शुक्रवार को दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको ने कहा है कि हम अकेले चुनाव लड़ने के लिए विवश हैं. दिल्ली में कांग्रेस पार्टी ने सभी सातों सीटों पर अपने उम्मीदवार फाइनल कर लिए हैं. आगे चाको ने कहा है कि आम आदमी पार्टी अपने रुख पर अड़ी है और इसलिए हम अकेले चुनाव लड़ने के लिए विवश हैं.

Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal pso receive threat call after complaint

पीसी चाको ने कहा, ” आम आदमी पार्टी अन्य राज्यों में गठबंधन चाहती है लेकिन हम केवल दिल्ली में गठबंधन के लिए तैयार हैं. हम अकेले चुनाव लड़ने के लिए विवश हैं क्योंकि AAP अपने रुख पर अड़ी हुई है. जल्द ही दिल्ली की सभी सात सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा कर दी जाएगी.” इससे पहले कांग्रेस पार्टी की हुए बैठक में दिल्ली और हरियाणा को लेकर लोकसभा उम्मीदवारों के नाम पर फाइनल मुहर लग गयी है.

Loading...

दरअसल पिछले लम्बे समय दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पार्टी के बीच गठबंधन को लेकर बातचीत का दौर चलता आया है. आम आदमी पार्टी ने अपनी ओर से कई बार कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर प्रस्ताव भेजा था! लेकिन हर बार कांग्रेस और आप में बात नहीं बन सकी. वहीँ आम आदमी पार्टी ने दिल्ली और हरियाणा में जननायक जनता पार्टी के साथ गटबंधन किया है! दोनों दल लोकसभा चुनाव साथ लड़ेगे. इसके इतर बीजेपी ने पंजाब के साथ साथ हरियाणा में भी शिरोमणि अकाली दल के साथ गठबंधन कर लिया है. लोकसभा और विधानसभा चुनाव दोनों साथ मिलकर लड़ेंगे.

Loading...

Related Posts