June 19, 2019
अन्य मुख्य खबरें

शर्मनाक: प्रोफ़ेसर ने की आतंकियों की तारीफ, हमले को बताया ‘कर्मो का नतीजा’

गुवाहाटी: पुलवामा आतंकी हमले के बाद देशभर में अभी तक कई आतंकी समर्थक गिरफ्तार किये जा चुके हैं. इसमें ज्यादातर छात्र शामिल हैं, लेकिन आपको जानकर बेहद हैरानी होगी कि एक कॉलेज के प्रोफेसर ने पुलवामा हमले में आतंकियों की वकालत कर डाली.

जिस देश के शिक्षक ही दहशतगर्दों और आतंकियों का समर्थन करते हो उस देश की शिक्षा का आलम क्या होगा यह बताने की जरा भी जरूरत नहीं है? सेना और हमारे सुरक्षाबलों को के मन में शिक्षा से ही जहर भरने वालों का ही नतीजा है कि देश में आतंकियों का समर्थन किया जाता है तो कहीं आतंकियों के समर्थन में नारेबाजी. पुलवामा आतंकी हमले के बाद भी देशभर में ऐसे ही छुपे हुए लोगों का खुलासा हो रहा है जोकि आतंकियों के इतने बड़े समर्थन है जिसका आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते हैं.

पुलवामा आतंकी हमले के बाद देशभर में ऐसे लोगों की लम्बी लिस्ट बनती जा रही है जोकि खाते भारत का है और गुणगान पाकिस्तान या आतंकवाद का करते हैं. इसी लिस्ट में अब छात्रों के साथ साथ प्रोफेसर भी शामिल हो गये हैं. पूरा मामला गुवाहाटी के एक कॉलेज का है जहाँ सोशल मीडिया पर पुलवामा आतंकी हमले को लेकर भारतीय सुरक्षा बलों के बारे में अपमानजनक टिप्पणी की गयी. यही टिप्पणी भी उस ने की है जिसकार छात्रों के भविष्य बनाने और संवारने का जिम्मा है.

गुवाहाटी के आइकॉन कॉमर्स कॉलेज में इंग्लिश डिपार्टमेंट की असिस्टेंट प्रोफेसर पपरी जेड. बनर्जी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. उन्होंने सोशल मीडिया साईट पर पुलवामा आतंकी हमले को लेकर भारतीय सैनिकों को लेकर अपमानजनक टिप्पणियां की थीं. महिला प्रोफेसर ने 15 फरवरी को अपने एक पोस्ट में लिखा, ’45 युवा बहादुर कल मारे गए. यह कोई जंग नहीं है. उन्हें तो लड़ने का मौका ही नहीं दिया गया. यह उच्च स्तर की कायरना हरकत है. इसने हर भारतीय का दिल तोड़ दिया है. लेकिन, लेकिन, लेकिन, क्या सुरक्षा बलों ने घाटी में यही काम नहीं किया है! आपने उनकी औरतों से बलात्कार किया…आपने उनके बच्चों को अपंग बनाया, उनकी हत्या की…आपने उनके मर्दों का वध किया…आपकी मीडिया लगातार उन्हें राक्षस साबित करने पर तुली है… और आपको लगता है कि इसका प्रतिकार नहीं होगा? क्या आप जानते हैं? आतंकवाद इस्लामी हो सकता है, लेकिन कर्म बहुत भारतीय, सनातन अवधारणा है…’

Loading...

उनकी इस टिप्पणी के बाद बाद सोशल मीडिया पर उनके खिलाफ लोगों का गुस्सा भड़क गये. फिलहाल प्रोफेसर साहिबा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, इतना ही नहीं उन्हें कॉलेज से भी सस्पेंड कर दिया गया है.

Loading...

Related Posts