July 8, 2020
Top News अंतरराष्ट्रीय

चीन ने दी भारत को धमकी: इस मामले से रहे दूर, नहीं तो भुगतने होंगे बुरे परिणाम…

नई दिल्ली: चीनी वायरस के कारण पूरी दुनिया में मौत का खौफ छाया हुआ है. उससे भी ज्यादा परेशानी विश्व की अर्थव्यवस्था तबाह हो चुकी है. जिससे नाराज विकसित देशों में चीन के कर्मों की सज़ा देने की प्लानिंग शुरू कर दी है. जिसमें, जापान और ब्रिटेन जैसे देश शामिल है. ऐसे में विकसित देशों को चीन के खिलाफ एक्शन लेने के लिए भारत की सबसे अधिक मदद की जरूरत है. जिसको लेकर अब चीन ने भारत को खुली धमकी दी है.

बतादें की दुनिया को कोरोना वायरस की आग में धकेलने वाला चीन लगातार अपनी अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में जुटा हुआ है और विकसित देशों सहित अपने पड़ोसी देशों पर दबाव बना रहा है, लेकिन अमेरिका ब्रिटेन जैसे देशों ने चीन का आगे झुकने के बजाय अब कोरोना वायरस की जानकारी छुपाने को लेकर उसे दण्डित करने की तैयारी शुरू कर दी है. जिसमें भारत अहम भागीदार बनने वाला है. इसी को लेकर चीन चिढ़ा हुआ है और चीन ने भारत को परिणाम भुगतने की खुली धमकी दी है.

कोरोना वायरस: 1 लाख 90 हजार मामले, एक दिन सबसे अधिक लोगों की मौत…

Loading...

कोरोना वायरस महामारी के बीच अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर जारी है. जिसमें अमेरिका को विजय तभी मिलेगी जब उसे भारत का साथ मिल सके. बिना भारत के साथ आये कोई भी विकसित देश चीन को जरा भी नुकसान नहीं पहुंचा सकता है. क्योंकि चीन की इकोनॉमिक ग्रोथ में भारतीय बाजारों का बहुत बड़ा योगदान है. लेकिन भारत में कोरोना वायरस के कारण जारी अर्थव्यवस्था की तबाही और अमेरिका के साथ मजबूत हुए संबंधों के कारण चीन को अब डर सताने लगा है कि अमेरिका, भारत का सहारा लेकर उसे (चीन) को बड़ा सबक सिखा सकता है. ऐसे में अब चीन ने भारत को भी धमकाना शुरू कर दिया है. चीनी सरकार का मुख्यपत्र कहे जाने वाले ग्लोबल टाइम्स ने भारत को धमकी भरे लहजे में लिखा है कि अच्छा होगा अगर भारत, अमेरिका-चीन के मामलों से दूर रहे.

टूट गयी संगीत की मशहूर जोड़ी: किडनी की बीमारी और कोरोना से वाजिद खान का निधन…

 

चीन ने कहा है कि अगर भारत, अमेरिका का साझीदार बनकर चीन के खिलाफ कुछ भी करता है तो कोरोना महामारी के बीच आर्थिक परिणाम बेहद खराब होंगे. चीन ने भारत सहित सभी देशों को धमकी दी है कि वह चीन और अमेरिका के बीच जारी ट्रेड वार से दूर ही रहे. नहीं तो इसके परिणाम घातक होंगे. चीन ने भारत को सलाह दी है कि वह अमेरिका के साथ जाकर, चीन के साथ अपने सबंधों को खराब न करे, नहीं तो इसका आर्थिक नुकसान भारत को उठान पड़ेगा. चीन ने आगे चेतावनी देते हुए कहा है कि चीन वैसी किसी भी परिस्थिति से बचना चाहता है जिसमें राजनीतिक कारणों से भारत को आर्थिक दुष्परिणाम भुगतने पड़ें. इसलिए मोदी सरकार को भारत-चीन के बीच के संबंध को लेकर एक सकारात्मक विचारधारा के साथ आगे बढ़ना चाहिए. फिलहाल चीन की धमकी भरी सलाह पर सरकार की ओर से अभी कोई भी बयान नहीं आया है.

Loading...

Related Posts

Leave a Reply