July 2, 2020
Headlines उत्तर प्रदेश

रामजन्मभूमि से मिली ऐतिहासिक मूर्तियाँ: निर्माण कार्य के लिए किया जा रहा है समतलीकरण

अयोध्या: उत्तर प्रदेश की ऐतिहासिक नगरी और मर्यादा पुरुषोत्तम श्री रामचंद्र की जन्मस्थली अयोध्या में कोर्ट के फैसले के बाद से निर्माण कार्य की तैयारियां तेजी से चल रही हैं. जिसको लेकर जहाँ यहाँ समतलीकरण किया जा रहा है. इसी दौरान रामजन्मभूमि से बड़ी संख्या में पुरातात्विक मूर्तियां मिलीं हैं.

बतादें कि अयोध्या में रामलला का भव्य मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है. इसके लिए यहाँ समतलीकरण का कार्य किया जा रहा है. इसी दौरान हुई खुदाई में बड़ी संख्या में पुरातात्विक मूर्तियां शिवलिंग और खंभे मिले हैं. हिन्दू महासभा के वकील विष्णु जैन ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट में बहस के दौरान हम पर मुस्लिम पक्ष ने हिंदू तालिबान का आरोप लगाया था और कहा था कि वहां पर मंदिर के कोई अवशेष नहीं है. पुरातात्विक मूर्तियां का मिलना यह उन आरोपों का जवाब है, जो हम सुप्रीम कोर्ट में बहस करते चले आ रहे थे.’

HRD मंत्री ने इग्नू के एम ए हिंदी के ऑनलाइन कार्यक्रम का किया शुभारंभ

जैन ने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट को हमने बताया था कि वहां (राम जन्मभूमि) परिसर में कई सारे मंदिरों के अवशेष हैं. एक शिवलिंग एएसआई को पहले भी मिला था, जब पहले खुदाई का आदेश हुआ था. वहां पर भव्य मंदिर था, इसलिए सुप्रीम कोर्ट ने हमें वही जगह दी है.’ आगे हिंदू महासभा के वकील विष्णु जैन ने कहा, ‘एएसआई की रिपोर्ट में बताया गया था कि वहां पर कई सारे मंदिर के अवशेष हैं. बाबरी मस्जिद के नीचे राम मंदिर का बहुत बड़ा स्ट्रक्चर था. आज मिले पुरातात्विक सबूत बताते हैं कि हमने सुप्रीम कोर्ट के सामने जो तर्क रखा था, वह कितना मजबूत था.’

Loading...

पिछले साल सुप्रीम कोर्ट द्वारा राम मंदिर पर ऐतिहासिक फैसला आने के बाद रामलला का भव्य मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो गया है. जिसको लेकर बड़े से भूभाग पर समतलीकरण किया जा रहा है. जहाँ से बड़ी संख्या में मूर्तियाँ और अवशेषों मिले हैं.

जिसमें देवी देवताओं की खंडित मूर्तियां, 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तंभ व 6 रेड सैंड स्टोन के स्तंभ और 5 फुट आकार के नक्काशीयुक्त शिवलिंग सहित कई मंदिरों में प्रयोग की जाने वाली कलाकृतियां मिली हैं.

जानकारों का कहना है की मंदिर को तोड़ कर मस्जिद बनाने के दौरान इन मूर्तियों और शिवलिंग सहित बड़े पत्थरों को जमीन में ही गाड़ दिया गया होगा. जोकि अब खुदाई में निकल रहे हैं. फिलहाल अयोध्या में जनता के सहयोग से भव्य मंदिर का निर्माण किया जा रहा है.

Loading...

Related Posts

Leave a Reply