Thursday, July 29, 2021

ओवैसी ने मिलाया इस गठबन्ध से हाथ: UP में क्या गुल खिलाएगी मीम-भीम की एकता?

राष्ट्रीय

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू हो चुकी है. भले ही अभी चुनाव में कुछ समय हो लेकिन राजनीतिक दलों ने यूपी को टटोलना शुरू कर दिया है. इसी कड़ी में AIMIM ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर बड़ी घोषणा की है. असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 100 प्रत्याशी उतारेगी. उन्होंने बीजेपी की पूर्व सहयोगी के साथ चुनाव लड़ने की भी बात कही है.

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर BJP, SP और BSP के बाद अब AIMIM भी चुनावी मैदान में उतरने की घोषणा कर चुकी है. रविवार को AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने सोशल मीडिया के जरिये जानकारी देते हुए बताया कि विधानसभा चुनाव में असदुद्दीन ओवैसी ने पूर्व मंत्री और बीजेपी गठबंधन में साथी रहे ओमप्रकाश राजभर के साथ हाथ मिलाया है. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ” हम ओमप्रकाश राजभर के ‘भागीदारी संकल्प मोर्चा’ के साथ हैं, हमारी और किसी पार्टी से चुनाव या गठबंधन के सिलसिले में कोई बात नहीं हुई है”

कानपुर के मूक बधिर की हुई घर वापसी: आदित्य से अब्दुल्ला अब अब्दुल्ला से बना आदित्य

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि ”यूपी चुनाव को लेकर मैं कुछ बातें आपके सामने रख देना चाहता हूं, हमने फैसला लिया है कि हम 100 सीटों पर अपना उम्मीदवार खड़ा करेंगे, पार्टी ने उम्मीदवारों को चुनने का प्रक्रिया शुरू कर दी है और हमने उम्मीदवार आवेदन पत्र भी जारी कर दिया है.” इससे पहले शनिवार को मीडिया में खबर प्रशासित हुई थी कि AIMIM ने मायावती की बहुजन समाज पार्टी (BSP) के साथ गठबंधन करेगी, हालांकि, बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर इन खबरों को निराधार बताते हुए खंडन कर दिया था. वहीँ अब असदुद्दीन ओवैसी ने भी साफ़ कर दिया है की वह ‘ओमप्रकाश राजभर की अगुवाई वाले भागीदारी संकल्प मोर्चा के साथ चुनाव लड़ने वाले हैं.

क्या है भागीदारी संकल्प मोर्चा?

‘भागीदारी संकल्प मोर्चा’ का गठन 2020 में हुआ है. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए कई छोटी पार्टियों ने मिलकर यह मोर्चा बनाया है. इस भागीदारी संकल्प मोर्चा की अगुवाई जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक),  सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी 2020 से कर रही है. जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) बाबू सिंह कुशवाहा जोकि बीएसपी सरकार में दूसरे ताकतवर नेता थे.

बीजेपी को झटका! पूर्व सहयोगी ने मिलाया ओवैसी से हाथ, AIMIM यूपी में खड़े करेगी 100 प्रत्याशी

उसके अलावा सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रमुख ओमप्रकाश राजभर हैं. जोकि 2017 के चुनाव में बीजेपी गठबंधन में थे और योगी सरकार में मंत्री भी रहे चुके हैं. योगी सरकार में इज्जत न मिलने आ आरोप लगाकर उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा देकर गठबंधन ख़त्म कर लिया था. भागीदारी संकल्प मोर्चा में AIMIM को मिलाकर 10 दल हैं. जिसमें अधिकतर दलित और ओबीसी के नेता शामिल हैं. ऐसे में देखना होगा की क्या 2022 के चुनाव में दलित मुस्लिम की एकता क्या खुल खिलाएगी

देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें.

- Advertisement -

More Article

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -
- Advertisement -




Latest News