Thursday, July 29, 2021

कानपुर में हुई ‘अब्दुल्ला’ की घर वापसी: मंदिर में पूजा कर बना आदित्य  

राष्ट्रीय

लालच और धोखे से धर्म परिवर्तन का शिकार हुए कानपुर के मूक बधिर आदित्य की फिर से घर वापसी हो गयी है. मौलानाओं के चक्कर में आकर मूक बधिर आदित्य, अब्दुल्ला बन गया था. वहीँ पिछले दिनों यूपी एटीएस ने देश में बड़े स्तर पर धर्मांतरण गिरोह चलाने वाले गैंग का पर्दाफाश करते हुए कई लोगों को पकड़ा था. इसी गिरोह के चुंगल में आकर आदित्य भी अब्दुल्ला बन गया था.

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार धर्मांतरण कर अब्दुल्ला बने आदित्य ने फिर से मंदिर जाकर पूजा अर्चना की और हिंदू धर्म में वापसी की. यह जानकारी आदित्य की माँ लक्ष्मी ने दी है. उन्होंने बताया, ”आदित्य ने मंदिर जाकर नारियल फोड़ा और भगवान् की पूजा की. आगे उन्होंने बताया कि, ‘आदित्य के व्यवहार में तेजी से बदलाव हो रहा है. यह सब देखते हुए हम सभी सुकून महसूस कर रहे हैं.”

आदित्य की माँ ने दैनिक जागरण के साथ बातचीत में बताया, “उन्होंने फैसला किया है कि अब वह आईएफडी (इस्लामिक फेडरेशन आफ डेफ) की साजिश के खिलाफ लड़ेंगी और लोगों को धर्मांतरण से बचने के लिए अभियान चलाएंगी.” आदित्य की माँ मूक बधिर बच्चों की क्लास लेती हैं. वह तमाम सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिये यह अभियान चलाएंगी. आपको जानकारी के लिए बतादें कि मूक बधिर आदित्य का भी धर्मांतरण कर उसे अब्दुल्ला बना दिया गया था.

हेल्लो बिहारवासियों: यह आपकी विधानसभा परिसर का रास्ता है इसे कोई ‘नहर’ मत समझ लेना…

आदित्य भी मौलानाओं जहाँगीर आलम कासमी और मोहम्मद उमर गौतम के संपर्क में आया था. जोकि मूक बधिर बच्चों को इस्लाम में कन्वर्ट करवाते थे. पिछले दिनों उत्तर प्रदेश एटीएस ने धर्मांतरण कराने वाले बड़े गिरोह का पर्दाफाश कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया था. जिसके बाद इस गिरोह के तार देश ही नहीं बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर फैले होने के भी सबूत मिले हैं.

देश दुनिया की ख़बरों से अपडेट रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें.

- Advertisement -

More Article

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -
- Advertisement -




Latest News