November 14, 2018
Delhi

उपराष्ट्रपति के सामने उठी ‘विधवा महिला आयोग’ बनाने की मांग

नई दिल्ली: अंतर्राष्ट्रीय विधवा दिवस के मौके पर शनिवार को दिल्ली के विज्ञान भवन में लंबा फाउंडेशन की ओर से अंतरराष्ट्रीय विधवा महिला दिवस का आयोजन किया गया. जिसमें उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, लुंबा फाउंडेशन की प्रेसिडेंट शेरी  ब्लेयर सेहत तमाम लोग मौजूद रहे.

बतादें कि देश में विधवा महिलाओं की स्थित पर हमेशा से सवाल खड़ा होता है. सरकार से लेकर समाज तक का विधवा महिलाओं के प्रति उदासीन रवैये के कारण हजारों ऐसी महिलायें नर्क की जिन्दगी जी रहीं हैं. ऐसे में शनिवार को अंतर्राष्ट्रीय विधवा महिला दिवस के मौके पर देश के उपराष्ट्रपति और कानून मंत्री के सामने एकबार फिर से विधवा महिला आयोग बनाने की मांग उठी है.

शनिवार को आयोजित किये गया लुंबा फाउंडेशन की और से कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति श्री वेंकैया नायडू ने कहा कि इस क्षेत्र में जो कुछ भी हो रहा है वह पर्याप्त नहीं है और बिना सब के समाज में साथ लिए समाज का विकास संभव नहीं है. वहीँ लुंबा फाउंडेशन के प्लेयर ने कहा कि भारत में विधवाओं की संख्या दुनिया भर में सबसे ज्यादा है हमें यहां न सिर्फ रूढ़ियों को खत्म करना है बल्कि उन्हें हर तरह से मजबूत भी करना है.

आगे कहा गया है कि भारत में विधवा महिलओं की शून्यता किसी भी भावनात्मक रिश्ते से नहीं भरी जा सकती. असहनीय वेदना, समाज की कुरीतियाँ हर मौके पर विधवा का इम्तिहान लेती है. उन्ही के दर्द को बांटने के लिए लुंबा फाउंडेशन ने दिल्ली के विज्ञान भवन में विधवा दिवस मनाया.




इस कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू और द लुंबा फाउंडेशन की अध्यक्ष चैरी ब्लेयर ने भी शिरकत कर भारत की विधवा महिलओं के प्रति समाज और सरकारी रवैये बदलने परे जोर दिया. लुंबा के संस्थापक लार्ड राज लुंम्बा ने कहा कि भारत में तुरंत विधवा महिला आयोग बनाया जाना चाहिए साथ ही पंचायत और नौकरियों में भी इन्हें आरक्षण मिलना चाहिए.

क्या है लुंबा फाउंडेशन

भारत में विधवा महिलाओं की दयनीय स्थित को सुधरने और उनकी आवाज को सराकर तक पहुंचाने के लिए 1997 में इस फाउंडेशन की स्थापना की गयी थी.




जिसके बाद से यह संस्था देश-विदेश में कार्य कर रही है. वहीँ इस कार्यक्रम में महिलओं की जिन्दगी सुधरने और संवारने का काम करने वाली कई महिलाओं को सम्मानित किया गया.

जिसमें जयपुर जिले के चिमनपुरा गाँव की रहने वाली प्रियंका यादव को नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में भारत के उप राष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडू ने एक लाख रुपये का चैक देकर सम्मानित किया. साथ ही उपराष्ट्रपति नायडू ने प्रियंका के जज़्बे की तारीफ़ करते हुए कहा कि देश की अन्य बेटियों को भी प्रियंका से सीख लेकर अपने भविष्य को बेहतर बनाने के लिए काम करना चाहिये.

Report: Mahendra

loading...

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *