April 26, 2018
Desh Manoranjan

आध्यात्मिक गुरु के बाद SC ने भी फिल्म पद्मावत का रास्ता किया साफ़

नई दिल्ली: विवादों में घिरी संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत को लगातार समर्थन मिल रहा है. पहले आर्ट ऑफ़ लिविंग के प्रमुख आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर ने फिल्म की सराहना की उसके बाद गुरुवार को ही देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों द्वारा लगाई गयी फिल्म के प्रदर्शन की रोक को असंवैधानिक बनाते हुए हटा दिया है.

बतादें कि फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली के लिए चारो तरफ से अच्छी खबर है. पहले नम्बर तो संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत पर कई राज्यों द्वारा लगाई गयी प्रदर्शन पर रोक को सुप्रीम कोर्ट ने असंवैधानिक बताते हुए हटा दिया है. वहीँ दूसरी ओर आर्ट ऑफ़ लिविंग के संस्थापक श्रीश्री रविशंकर ने पद्मावत फिल्म का समर्थन करते हुए कहा है कि इस फिल्म में कुछ भी ऐसा नहीं है जिससे किसी की भी भावनाएं आहात हों. ऐसे में फिल्म की सराहना करना और फिल्म के समर्थन से संजय लीला भंसाली के लिए अच्छी खबर है कि उनकी फिल्म को हर ओर से लगातार समर्थन मिल रहा है.

वहीँ समर्थन से करनी सेना पर भी भारी दवाब पड़ रहा है जबकि फिल्म में कुछ भी आपतिजनक है ही नहीं तो फिल्म का विरोध कम हो सकता है या फिर थम सकता है. बताया जा रहा है कि फिल्म की स्पेशल स्क्रीकिंग आर्ट ऑफ़ लिविंग के सेंटर पर रखी गयी थी. जहाँ से फिल्म देखने के बाद ही की आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर ने फिल्म की तारीफ की है. श्रीश्री रविशंकर ने कहा कि यह अद्भुत है. इस पर हमें गर्व है. यह रानी पद्मिनी का सम्मान है. पूरी फिल्म में ऐसी कोई बात नहीं है, जिस पर आपत्त‍ि जताई जाए. मुझे इस बात पर हैरानी है कि कुछ लोग इस फिल्म का विरोध कर रहें हैं.

उन्होंने कहा कि जो भी इस फिल्म को देखेगा उसे रानी पद्मावती पर गर्व होगा. श्रीश्री ने कहा कि फिल्म पर जारी विरोध बंद होना चाहिए. वहीँ हरियाणा, मध्यप्रदेश, गुजरात सहित जिन राज्य सरकारों ने फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाईं थी, उनकी रोक को SC ने असंवैधानिक बताते हुए हटा दिया है. ज्ञात हो कि फिल्म पद्मावत को लेकर राजस्थान और देश अन्य हिस्सों में करनी सेना ने प्रदर्शन की धमकी दी हुई थी. ऐसे में कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए कई राज्य सरकारों ने फिल्म पर प्रदर्शन पर रोक लगा दी थी. आरोप है कि फिल्म में राजपुताना रानी पद्मावती का खिजली के साथ एक ड्रीम सिक्वल दिखाया गया है. वहीँ मेकर्स का कहना अहै कि फिल्म में ऐसा कुछ भी नहीं है जिससे किसी के सम्मान को आंच आये.

 

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Journalist India