November 18, 2018
Kavita/kahaanee

कविता: जीवन का ये लक्ष्य अटल है…

हिंदी दिवस के अवसर पर राजपाल सिंह की कविता

जीवन का ये लक्ष्य अटल है
हमने तुमने चुनना है
हिंदी के उज्जवल इतिहास को
अपने हाथ से बुनना है
है विश्वास अपना ये
हिंदी को शिखर स्थान मिले
जहाँ जहाँ हो पूत माता के
हर जगह हिंदी को सम्मान मिले
सम्मानों का मार्ग बड़ा है
हमने तुमने चुनना है
हिंदी के उज्जवल इतिहास को
अपने हाथ से बुनना है
हम आज शपथ लें हिंदी
हिंदी को ही हम गाएंगे
तुलसी कबीर मीरा जैसे
संतो की भांती दोहराएंगे
दोहराना है फिर इतिहास
भारत श्रेष्ठ बनाना है
निज भाषा में कल्याण छुपा है
ये सबको बताना है
जीवन का ये लक्ष्य अटल है
हमने तुमने चुनना है
हिंदी के उज्जवल इतिहास को
अपने हाथ से बुनना है

राजपाल सिंह

राजपाल सिंह

-राजपाल सिंह  

(यह लेखक के निजी विचार हो सकते हैं)

loading...

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *