November 15, 2018
Uttar Pradesh

स्वच्छ भारत के दुश्मन: सफाई न होने से तालाब में पसरी गंदगी

नोएडा: गौतम बुद्ध नगर में गत वर्ष जिला प्रशासन ने मनरेगा योजना के तहत तालाबों की साफ-सफाई और सुंदरीकरण का काम कराया था. लेकिन दादरी के चिटेहडा गांव के तालाब पर प्रशासन की नजर नहीं गई. तालाब की जमीन पर लोगों का अवैध कब्जा होने के साथ – साथ घरों से निकलने वाला गंदा पानी भी तालाब में जमा होता है. इसके चलते तालाब के आसपास रहने वाले लोग गंदगी व बदबू से बेहाल हैं.

वहीँ जब इस समस्या को लेकर ग्रामीण कई बार जिला प्रशासन से शिकायत भी कर चुके हैं, लेकिन प्रशासन के हिलहवाली रवैये की वजह से तालाब की स्थिति बद से बदत्तर हो गई है. इस वजह से पशुओं को भी पीने के लिए साफ़ पानी नहीं मिल रहा है. तालाब के पास घनी आबादी है, पिछले कई वर्षों से तालाब की साफ-साफई नहीं  हुई है, जिससे वहां पर लंबी-लंबी झाडिया व घास उग गयी है.

बड़े हादसे के इंतजार में बैठा नोएडा का बिजली विभाग…

वहीं गांव के प्रधान राजेंद भाटी का कहना है कि दो दशक से तालाब की सफाई नहीं हुई है. इसी कारण तालाब में घास उग गई है. पिछले साल जिला प्रशासन ने अन्य  गांव के तालाबों का सुदरीकरण किया था. लेकिन चिटेहडा गांव की तरफ ध्यान नहीं दिया जा रहा है. उन्होंने यह भी कहा कि गांव के लोगों को तालाब के महत्व को समझना होगा. तालाब पर कब्जा करने वाले के खिलाफ ग्रामीणों को एकजुट होना होगा.

रिपोर्ट: अभिषेक भारद्वाज

loading...

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *