October 22, 2018
Badi khabren Uttar Pradesh

यात्रीगण कृपया ध्यान दें: सिर्फ नाम बदला है व्यवस्था नहीं!

मुगलसराय: उत्तर प्रदेश के मुगलसराय स्टेशन का आज से नाम बदल जाएगा है. इसको लेकर सरकार और विभाग ने पहले से ही सारी तैयारी कर ली थी. अब से मुगलसराय जंक्शन को पंडित दीन दयाल उपाध्याय के नाम जाना जाएगा.

बतादें कि लम्बे समय से चली आ रही सुगबुगाहट और नाम को लेकर जारी कयासों पर आज पूर्णतया विराम लग जाएगा जब रेल मंत्री पीयूष गोयल मुगलसराय स्टशन को पंडित दीन दयाल उपाध्याय स्टेशन करने की घोषणा करेंगे. इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित रेलवे के कई नेता मौजूद रहेंगे.

वहीँ नाम बदले जाने को एलकार कुछ लोगों का कहना है कि क्या रेलवे की व्यवस्था बदलेगा. पंडित दीनदयाल उपाध्याय नाम रखा जाए या मोदी स्टेशन उन्हें इससे कोई फर्क नहीं पड़ा है., उन्हें फर्क पड़ता है तो स्टेशन के हालत देखकर, स्टेशन पर पसरी गंदगी देखकर, टिकट खिडकी पर लगी लाइन देखकर, उन्हें फर्क पड़ता है कि टिकट देने में लापरवाही करने वाले सिस्टम से, लोगों ने पूछा कि अब से से क्या स्टेशन पर हर रोज होने वाली महिलाओं छेड़छाड़, लोगों के साथ पॉकेट मार, ट्रेनों के टॉयलेट आदि में भी सुधार आयेगा. या फिर सिर्फ नाम ही बदला गया है.

इस लिए बदला गया नाम?

जिम्बाब्वे: एमर्सन ने जीता राष्ट्रपति चुनाव

कयासों का दौर गर्म है. नाम एतिहासिक मुगलसराय स्टेशन का नाम क्यों बदला गया है? इस बारे में कुछ लोगों का कहना है कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के विचारक दीन दयाल उपाध्याय फरवरी 1968 में मुगलसराय रेलवे स्टेशन के पास ही संदिग्ध अवस्था में मृत मिले थे. जिसके वर्षों बाद उन्हें यह छोटी सी भेंट दी जा रही है.

loading...

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *