November 18, 2018
Rajneeti

कर्नाटक: जेडीएस-कांग्रेस आगे बीजेपी प्रमुख ने मानी हार!

बेंगलुरु: कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के बाद निकाय चुनाव में भी कांग्रेस और जेडीएस की जोड़ी को जनता का समर्थन मिल चुका है. सोमवार को नगर निकाय चुनाव के आये परिणाम ने बीजेपी को निराश ही नहीं किया बल्कि प्रदेश प्रमुख ने हार भी मान ली है.

बतादें कर्नाटक निकाय चुनाव में बीजेपी को हरा का सामना करना पड़ा है. राज्य की 2,592 वार्डों, 53 कस्बों के नगर पालिकाओं, 23 नगर पंचायतों व तीन नगर निगमों के 135 वार्डों में हुए चुनाव की सोमवार को मतगणना हुई. जिसमें बीजेपी को निराशा हाथ लगी है. इसी के साथ कांग्रेस और जेडीएस की जोड़ी पर जनता ने भी मुहर लगा दी है. निकाय चुनावों में शाम तक घोषित 2628 सीटों के नतीजों में कांग्रेस 988 सीटें और बीजेपी ने 929 सीटें मिली हैं. वहीं, जेडीएस को 378 सीटों से ही संतोष करना पड़ा.

वहीँ राज्य में कांग्रेस और जेडीएस ने कुल मिलाकर 1,366 सीटें जीती हैं. वहीँ राज्य विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में नगर निकाय का यह निर्णायक चुनाव माना जा रहा है था, जहाँ बीजेपी को एक तरीके से हार का सामना करना पड़ा है. इसी साल हुए विधानसभा चुनाव में बड़ी पार्टी बनने के बाद भी सत्ता से बेदखल हुई बीजेपी को एकबार फिर से जनता ने खारिज कर दिया है. चुनाव परिणाम को लेकर  कर्नाटक बीजेपी अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि नतीजे उम्मीदों से ज्यादा खराब हैं. उन्होंने कहा कि गठबंधन सरकार की वजह से पार्टी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई.

फिर बढ़ने वाली है खट्टर सरकार की मुश्किल, सड़क पर उतरेंगे लाखों युवा

जेडीएस-कांग्रेस की जीत के आगे कर्नाटक बीजेपी प्रमुख ने मानी हार

यहाँ कुल 8,340 उम्मीदवारों ने चुनाव में हिस्सा लिया था. वहीँ शहरी निकाय चुनावों में कांग्रेस के 2,306 उम्मीदवार, भारतीय जनता पार्टी के 2,203 और जनता दल-सेक्‍युलर (जेडीएस) के 1,397 मैदान में उतरे थे. खासबात यह है कि कर्नाटक सरकार में कांग्रेस जेडीएस के साथ होने के बाद भी निकाय चुनाव में कांग्रेस ओर जेडीएस एक दुसरे के खिलाफ चुनाव मैदान थे. ऐसे में यह मुकाबला बीजेपी, कांग्रेस और जेडीएस तीनों के माना जा रहा था. जहाँ कांग्रेस जेडीएस की जोड़ी को जनता का बड़ा समर्थन मिला है. इस जीत को 2019 के आम चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा है.

यह भी देखें-

loading...

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *