April 26, 2018
Desh

भारत की पहली महिला डॉक्टर का गूगल ने बनाया डूडल, महज 19 वर्ष की आयु में बनी थीं डॉक्टर..  

नई दिल्ली: भारत की पहली महिला डॉक्टर बनी डॉक्टर आनंदी गोपाल जोशी की 153वीं जयंती है. उनकी जयंती पर दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें याद किया है. आनंदी जोशी को भारत की पहली महिला डॉक्टर के रूप में जाना जाता है.

बतादें कि गूगल ने जिस भारतीय महिला डॉक्टर आनंदी गोपाल जोशी का डूडल बनाकर उन्हें सम्मान दिया है. उनका पूरा नाम आनंदी बाई जोशी था, उनकी शादी गोपाल राव जी से हुई थी. कम उम्र में शादी होने के बाद भी उन्होंने एक सपने को साकार किया. इसमें उनके पति का बड़ा योगदान माना जाता है. उनका जन्म 31 मार्च 1865 को कल्याण में हुआ था. उनके बारे में ज्यादा विस्तार से मराठी उपन्यासकार श्री. ज. जोशी ने ‘आनंदी गोपाल’ नाम के उपन्यास में लिखा है.

Source_google

उपन्यासकार ज. जोशी लिखते हैं, गोपालराव की आनंदी से शादी की शर्त ही यही थी कि वे पढ़ाई करेंगी. जबकि आनंदी के परिवार वाले इसके ख़िलाफ थे. 9 साल में उम्र में गोपाल राव जी से व्याही आनंदी को शिक्षा का क,ख,ग तक नहीं पता था लेकिन, गोपाल राव ने उनको शिक्षित कर डॉक्टर बनाने का सपना देखा. बताया जाता है कि आनंदीबाई मेडिकल क्षेत्र में शिक्षा पाने के लिए अमेरिका गईं और साल 1886 में (19 साल की उम्र में) उन्होंने MD की डिग्री हासिल कर ली. वो एमडी की डिग्री पाने वाली और पहली भारतीय महिला डॉक्‍टर बनीं. कहा जाता है कि गोपाल रॉ जी जितनी भी किताबें लेकर आते थे वह सारी किताबें आनंदी पढ़ डालती थी. लेकिन समाज के लिए डॉक्टर बनी आनंदी अपनी ही बीमारी से जीत नहीं सकीं. स्वदेश लौटने के बाद उन्हें टीबी हो गयी थी, जिसके चलते 26 फरवरी 1887 को महज 22 वर्ष की आयु में उनका निधन हो गया था.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Journalist India