April 26, 2018
Rajneeti

INX मामला: अब CBI करेगी कार्ति चिदंबरम की मेहमाननवाजी!

नयी  दिल्ली: INX मीडिया मामले में पी. चिदंबरम साहेब के लाडले बेटे कार्ति चिदंबरम की होली बेरंग हो गयी है. ऐसा इसलिए क्यों कि छोटे चिदंबरम को बुधवार को सीबीआई ने चेन्नई  एअरपोर्ट से ही धर लिया. उसके बाद दूसरी लैंडिंग दिल्ली ही हुई वह भी सीधा कोर्ट में, वहीँ गुरुवार को भी कोर्ट ने छोटे चिदंबरम को राहत न देते हुए मुफ्त में सीबीआई का मेहमान बना दिया.

पूरा मामला तो हमे भी नहीं पता है, लेकिन इतना जरुर मालूम है की दस साल पुराने INX (वर्तमान 9X) मीडिया में कुछ फर्जीवाडा कर विदेशी निवेश दिलाने के लिए रिश्वत ली गयी थी. जिसको लेकर सीबीआई जाँच कर रही है, वहीँ सीबीआई का आरोप है कि (मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार) पी.चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम जाँच में सहयोग नहीं कर रहे हैं. वह लगातार विदेश भाग भाग कर सबूतों को नष्ट कर रहे हैं. दूसरी ओर इंद्राणी मुखर्जी के बयानों के आधार पर कार्ति चिदंबरम ने रिश्वत की मांग की थी. वहीँ इसी आरोप के बाद बुधवार को ही सीबीआई ने चेन्नई एअरपोर्ट से (लन्दन से लौटते वक्त) कार्ति को गिरफ्तार कर लिया.

बुधवार को ही उन्हें पटियाला कोर्ट में पेश किया गया, जहाँ एक दिन की रिमांड पर भेजा गया. वहीँ गुरुवार को उन्हें फिर से कोर्ट में पेश किया गया. जहाँ से उन्हें कोर्ट ने 6 मार्च तक के लिए सीबीआई की कस्टडी में भेज दिया है. सीबीआई ने पूछताछ के लिए कार्ति का 14 दिन का रिमांड मांगा था. कोर्ट ने सीबीआई के कुछ सब सबूतों जिसमें कंपनियों के बीच लिंक्स, ईमेल्स, इनवॉइस आदि का जिक्र किया गया. जिसमें यह साबित होता दिखा रहा है कि ASCPL को बड़ी मात्रा में पैसा दिया गया है. जिसके बाद कांग्रेस नेता और वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी की दलीलों को कोर्ट ने खारिज करते हुए, कार्ति की रिमांड बढ़ा दी.

यह है आरोप

कांग्रेस सरकार में 2007 में चिदंबरम के वित्त मंत्री के दौरान कार्ति ने INX मीडिया को विदेश से 305 करोड़ रुपए दिलाने के लिए कार्ति ने पैरवी करने के लिए रिश्वत की मांग की थी. यह खुलासा जेल में बंद इन्द्राणी मुखर्जी से पूछताछ में हुआ है. जिसमें बताया गया है कि INX को FIPB (फॉरन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड) की मंजूरी के लिए 10 लाख रुपए रिश्वत के रूप में लिए थे.जिसके कम्पनी की किसी तरह की जांच न हो.

वहीँ गुरुवार को कोर्ट ने कार्ति को राहत न देते हुए पी.चिदमबरम की भी मुश्किल बढ़ा दी है, अगर कार्ति से सीबीआई सख्ती से पूछताछ करती है तो इस मामले में पी.चिदम्बरम पर भी जांच की आंच आ सकती है.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Journalist India