November 13, 2018
Rajneeti

14 लोगों की हत्यारिन अवनि के ‘एनकाउंटर’ पर राहुल-मेनका ने जताई नाराजगी

मुंबई: महाराष्ट्र के यवतमाला में हुए एक एनकाउंटर को लेकर बीजेपी और कांग्रेस दोनों के बड़े नेताओं ने नाराजगी जताई है. वहीँ इस घटना के बड़ा बहुत से लोगों ने सोशल मीडिया पर नाराजगी जताते हुए ट्वीट किया है.

बतादें कि पूरा मामला महाराष्ट्र के यवतमाल का है जब यहाँ शुक्रवार को बाघिन अवनि को गोली मार दी गई. कहा जाता है कि बागिन ने अबतक 14 लोगों को मार चुकी है और वह आदमखोर हो गयी है. जिसके बाद उसका एनकाउंटर कर दिया गया है. बागिन अवनि को मारे जाने एक बाद लोगों ने मारे जाने के तरीके पर सवाल खड़ा किया है., मामला इतना बढ़ गया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी तक को बीच में आना पड़ गया. इसके साथ ही मेनका गाँधी ने भी इसपर नाराजगी जताई थी. आज तक की खबर के मुताबिक़ शुक्रवार को बाघिन अवनि का एनकाउंटर किया गया था. शार्प शूटर ने उसे काफी मशक्कत के बाद मार गिराया था.

धक्का-मुक्की पर MLA ने कहा, रोकता नहीं तो सीएम केजरीवाल पर हमला कर देते मनोज तिवारी

जिसके बाद कई पशु प्रेमियों ने इस घटना पर दुःख जताते हुए बाघिन के मारने के तरीके पर सवाल खड़ा किया है. खुद कांग्रेस प्रमुख राहुल गाँधी ने सोमवार को ट्वीट किया. राहुल के ट्वीट में लिखा गया है कि, ” किसी देश की महानता इस बात से मापी जाती है कि वह जानवरों के साथ किस प्रकार व्यवहार करता है ~ महात्मा गांधी” #अवनि’ उसनका इशारा साफ़ थ कि एक बाघिन को एन्काउंतर में मारा जाता है. राहुल गांधी ही नहीं बल्कि मोदी सरकार में मंत्री मेनका गांधी ने भी अवनि की मौत पर दुख जताया था.

दिल्ली-एनसीआर में धुंध की चादर, तापमान में गिरवाट

मेनका ने महाराष्ट्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि, ‘यह पूरी तरह से अवैध है, वन विभाग के अधिकारी बाघिन को बेहोश करने और पकड़ने में सक्षम हैं, फिर भी शूटर शाफत अली खान ने महाराष्ट्र के वन मंत्री के आदेश पर उसे मार डाला. यह एक अपराध का मामला बनता है. दरअसल यवतमाल में बाघिन अवनि ने आतंक मचा रखा था. कहा जाता है कि उसने 14 लोगों की हत्या कर दी थी. जिसके बाद उसको काबू करने के लिए अभियान चलाया गया था, लेकिन वह किसी की पकड़ में नहीं आई, जिसके बाद उसे शूट कर दिया गया.

आप हमारे साथ फेसबुक और ट्विटर पर भी जुड़ सकते हैं.

loading...

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *