October 21, 2018
Others Uttar Pradesh

शर्मनाक: रेप के आरोपी विधायक को DGP ने कहा माननीय!

उन्नाव: उन्नाव की किशोरी के साथ गैंगरेप मामले में ऐसा प्रतीत हो रहा है कि राज्य सरकार ने अपने ‘माननीय’ रेप के आरोपित विधायक को बचाने के लिए पूरे राज्य के प्रशासन को उतार दिया हो. तभी राज्य के डीजीपी रेप के आरोपी विधायक को माननीय जी कहकर संबोधित कर रहे थे.

बतादें कि मीडिया और विपक्ष के हल्ला बोल के बाद भले ही पूरी कि निक्कमी, बुझदिल पुलिस ने भले ही रेप के आरोपी और योगी के खासमखास विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के खिलाफ दो केस दर्ज कर लिए हों लेकिन पुलिस का जो रवैया एक रेप के लगने वाले विधायक के खिलाफ बना हुआ है उससे जान पड़ता है कि पीडिता को न्याय कभी नहीं मिल पायेगा. क्यों कि राज्य के सबसे बड़े पुलिस अधिकारी माने जाने वाले डीजीपी साहब ही रेप के आरोपी को माननीय जी कहकर संबोधित करते नजर आये.

गुरुवार को राज्य के प्रधान सचिव और डीजीपी ने संयुक्त बयान में कहा है कि इस मामले में पुलिस और प्रशासन से चूक हुई थी. घटना के 260 दिन बाद अब केस सीबीआई के हवाले किया गया है. राज्य DGP ओपी सिंह ने, रेप के आरोपित विधायक को लेकर बड़े ही सम्मानित भाव से कहा कि ‘माननीय विधायक जी की गिरफ्तारी का फैसला सीबीआई करेगी.

उन्होंने कहा कि माननीय विधायक की गिरफ्तारी को लेकर अब सीबीआई ही कोई फैसला लेगी. ऐसे में सवाल उठता है कि जिस राज्य का सबसे बड़ा पुलिस अधिकारी ही एक रेप के आरोपित विधायक को माननीय जैसे शब्दों से संबोधित कर रहा हो उस राज्य के में रेप पीड़िता को कैसे न्याय मिल सकेगा.

उन्नाव के बांगरमऊ क्षेत्र से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर साल 2017 में एक किशोरी से गैंगरेप करने का आरोप लगा है. साथ ही पिछले दिनों पीड़िता के पिता की विधायक के भाई और उसके गुंडों द्वारा की गयी पिटाई से मौत के बाद मामला तूल पकड़ा हुआ है. जहन विपक्ष और मीडिया रेप पीड़िता के न्याय के लिए लड़ रहे हैं. वहीँ रेप के आरोपी विधायक को योगी सरकार बचाने के लिए उतर पड़ी है?

loading...

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *