Badi khabren Desh

कांग्रेस ने तैयार किया था ‘हिन्दू आतंकवाद’ का मुद्दा, एक एक कर बरी हो रहे हैं सभी आरोपी

हैदराबाद: हैदराबाद में NIA की विशेष अदालत ने अपाने फैसले में जतिन चटर्जी उर्फ नबाकुमार सरकार उर्फ स्वामी ओंकारनाथ उर्फ स्वामी असीमानंद को आज मक्का मस्जिद विस्फोट मामले में बरी कर दिया है, इसके साथ ही केस के सभी अन्य आरोपी भी नरी हो चुके हैं.

बतादें साल 18 मई 2007 को जुमे की नमाज के दौरान ऐतिहासिक मक्का मस्जिद में धमाका हुआ था. जिसमें आधिकारिक तौर पर 9 लोगों की मौत और 50 से ज्यादा लोग घायल हुए थे. वहीँ पूरे मामले पर अदालत ने असीमानंद सहित सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. इस मामले की जांच पुलिस के बाद सीबीआई और NIA ने की थी.

साथ ही आपको बता दें किअसीमंनद पर साल 2007 में हैदराबाद में मक्का मस्जिद में विस्फोट के साथ साथ साल 2007 में ही अजमेर दरगाह में विस्फोट और साल 2008 में समझौता एक्सप्रेस ब्लास्ट सहित मालेगांव विस्फोट का भी आरोप लगा है और आपको जानकारी के लिए बता दें कि असीमानंद एक एक कर सभी आरोपों से बरी होते जा रहे हैं. वहीँ इस सभी अम्मालों में असीमानंद को के साजिश के तहत फंसाया गया था. इन मामलों में असीमानंद के साथ साथ साध्वी प्रज्ञा ठाकुर कई निर्दोष लोगों को फंसाकर हिन्दू आतंकवाद को साबित करने की कोशिश की गयी थी.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *